June 6, 2021

अमेठी: लूट का माल सहित लुटेरे गिरफ्तार

अमेठी: अपराधी कितना भी शातिर क्यों ना हो लेकिन वह पुलिस के लंबे हाथ से ज्यादा दिन तक नहीं बच सकता। यदि पुलिस अपने पर उतारू हो जाती है तो निश्चित रूप से बड़े से बड़े मामले को पल भर में निपटा देती है । लेकिन ऐसा अक्सर कम ही देखने को मिलता है अमेठी जिले में 31 मई की रात में हुए लूट कांड जिसका मुकदमा 1 जून को जगदीशपुर थाने में पंजीकृत हुआ था ।

उसका खुलासा आज अमेठी पुलिस के द्वारा जनपद मुख्यालय स्थित पुलिस कार्यालय में पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह के द्वारा कर दिया गया है । जिसमें थाना जगदीशपुर पुलिस और यसओजी टीम के संयुक्त प्रयास से लूट की एक पिकअप संख्या UP 32 PN 0802 मेट्रो अलमारी तथा लूट में प्रयुक्त की गई लग्जरी इनोवा कार संख्या UP 32 CU 3200 दो अवैध तमंचा 315 बोर 04 अदद जिंदा कारतूस व 02 अदद खोखा कारतूस सहित 02 शातिर अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है । जबकि किस लूट कांड में शामिल हुए 04 अभियुक्त अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं। पुलिस की सतर्कता से कार्य करने के लिए मेट्रो अलमीरा कंपनी के मालिक ने अमेठी पुलिस को ₹11000 नगद पुरस्कार के रुप में देते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया है। पूरा मामला आपको बता दें कि सुल्तानपुर जनपद के थाना कोतवाली नगर निवासी अब्दुल जाउद का अमेठी जिले के कमरौली थाना क्षेत्र अंतर्गत औद्योगिक क्षेत्र में प्लॉट नंबर 13/27 सेक्टर 13 पर अब्दुल इंडस्ट्रीज के नाम से एक प्लांट लगा हुआ है । जहां पर मेट्रो नाम से लोहे की अलमीरा तैयार की जाती है । जहां पर 31 मई की रात लगभग 9:00 बजे चालक शिवकुमार मौर्य द्वारा महिंद्रा मैक्सी ट्रक पर 1 लाख 20 हज़ार रुपये कीमत की 10 अलमीरा लादकर वाराणसी लेकर जाना था। लेकिन देर होने के कारण चालक गाड़ी लेकर अपने घर चला गया जो मुराइन का पुरवा मजरे पंहौंना थाना शिवरतन गंज का निवासी था । 1 जून की सुबह तड़के ही वह गाड़ी लेकर वाराणसी के लिए निकल पड़ा । वह अलमीरा लदी गाड़ी अभी जगदीशपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत हाईवे पर सिंधियावा चौराहे से 50 मीटर आगे पहुंची थी । तभी पीछे से आई एक इनोवा लग्जरी गाड़ी पर सवार 7 अज्ञात लोगों ने अपने को पुलिस बता कर गाली देते हुए गाड़ी रोकने के लिए कहा और जैसे ही गाड़ी रुकी गाली गलौज कर धमकी देते हुए कहा कि तुम्हें 3 दिन से वाच कर रहे हैं । तुम इसमें नंबर दो का सामान लादकर तस्करी करते हो और चालक को इनोवा कार में जबरन बैठा लिया । उसमें से 03 बदमाशों ने कंपनी की अलमीरा लगी गाड़ी लेकर सुल्तानपुर की ओर चले गए और 04 बदमाशों ने कहा कि तुमको लेकर थाने चल रहे हैं और तुम्हारी गाड़ी पीछे आ जाएगी । चालक को जामो थाने से कुछ दूर पहले शाल्हापुर के पास कार सवार व्यक्तियों ने उतार दिया। ड्राइवर तत्काल वहां से जामो थाने पहुंचा और वहां पर एक पुलिसकर्मी का फोन लेकर मालिक को पूरी घटना बताइ । जिस पर अब्दुल जाऊद ने तत्काल जगदीशपुर कोतवाली पहुंचकर पुलिस को तहरीर प्रदान किया । जिस पर जगदीशपुर कोतवाली में मुकदमा अपराध संख्या 214/2021 धारा 392, 504, 506, 411 पंजीकृत किया गया । इस लूट कांड को गंभीरता से लेते हुए तत्काल पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह ने अपर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार पांडेय के पर्यवेक्षण तथा कथा मुसाफिरखाना के पुलिस क्षेत्राधिकारी मनोज कुमार यादव के निर्देशन में 05 टीमें घटना के अनावरण हेतु सक्रिय कर दिया ।

इन सभी टीमों ने अपना अपना कार्य शुरू कर दिया । जिसमें जगदीशपुर पुलिस और एसओजी प्रभारी विनोद यादव ने सर्विलांस की मदद से घटना के 5 दिनों के भीतर संपूर्ण माल बरामद करते हुए लूट कांड का खुलासा कर दिया। इस लूट कांड का मास्टरमाइंड महेश सिंह पुत्र वीरेंद्र बहादुर सिंह निवासी पिंडारा थाना मुसाफिरखाना जनपद अमेठी का निवासी है । इसके ऊपर आधा दर्जन लूट सहित कुल 1 दर्जन मुकदमे पंजीकृत है । इन लोगों ने नंदमहर में एक कमरा किराए पर लेकर उसी में सारा सामान रखा हुआ था।

You may also like...