October 7, 2021

एमएलसी व डीएम ने जिला चिकित्सालय में स्थापित ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट का किया लोकार्पण

एमएलसी व डीएम ने जिला चिकित्सालय में स्थापित ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट का किया लोकार्पण

मनीष अवस्थी


ऑक्सीजन प्लाट में प्रतिदिन 1000 एलपीएम ऑक्सीजन का होगा उत्पादन: डीएम


स्वास्थ्य कार्यो में किसी भी प्रकार न बरती जाए लापरवाही: डीएम


रायबरेली: पूरे देश में पीएम केयर फंड द्वारा स्थापित कराए गए आक्सीजन जनरेशन प्लांट का आज मा0 प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने उत्तराखंड से वर्चुअल माध्यम से शुभारंभ किया। इसी क्रम में जिला अस्पताल (पुरुष) में पीएम केयर फंड द्वारा स्थापित ऑक्सीजन प्लांट का एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने फीता काट कर लोकार्पण किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव ने कहा कि इस ऑक्सीजन प्लांट से प्रतिदिन 1000 एलपीएम ऑक्सीजन का उत्पादन होगा। उन्होंने कहा कि जनपद रायबरेली में 6 ऑक्सीजन प्लांट संचालित हो गए हैं जिनमें जिला चिकित्सालय व एम्स में 1000 क्षमता, एम0सी0एच0 विंग जिला महिला चिकित्सालय में 500 क्षमता, एल-2 मॉर्डन रेल कोच फैक्ट्री में 180 व 45 क्षमता तथा सामु0 स्वा0 केन्द्र रोहनिया में 330 एलपीजी ऑक्सीजन उत्पादन की क्षमता वाला ऑक्सीजन जनरेशन प्लाट का लोकार्पण किया गया है।
जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव ने इसी दौरान जिला अस्पताल का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने आये हुए मरीजों से स्वास्थ्य सम्बन्धित कुशलक्षेम पूछा तथा सीएमएस को निर्देश दिये कि आने वाले मरीजों का सही समय से सही ईलाज किया जाये तथा जिला अस्पताल के मेन गेट पर स्ट्रक्चर के साथ वार्ड बाॅय तैनात किये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि अस्पताल के परिसर में मेय आई हेल्प डेस्क की स्थापना की जाए। जिससे आने वाले मरीजों को डाॅक्टर व सम्बन्धित बीमारियों के वार्डो की जानकारी मिल सके जिससे मरीजों को किसी भी प्रकार की समस्याओं का सामना न करना पड़े। उन्होंने निर्देश दिये कि बरसात को देखते हुए संचारी रोग के नियंत्रण व अन्य बीमारियों से निपटने की व्यवस्थाओं को पूरी तरह से दुरूस्त रखने के साथ ही सभी जीवन रक्षक दवाईयों की उपलब्धता को बनाये रखे। उन्होंने जनआरोग्य योजना आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड के अरोग्य मित्र शंकर भारती से आयुष्मान गोल्डन कार्ड कितने बनाये गये है और किन-किन मरीजों का ईलाज किया जा रहा है कि जानकारी ली।
जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि जनपद में कोविड-19 टीकाकरण की गति को बढ़ाते हुए अधिक से अधिक लोगों को टीकाकरण लगवाकर शत-प्रतिशत पूरा करे। स्वास्थ्य सम्बन्धी कार्यो में किसी भी प्रकार की शिथिलता व लापरवाही न बरती जाए। टेलीमेडिसिन के बारे में भी विस्तार से जानकारी लेने पर सीएमएस द्वारा बताया गया कि डाॅ0 अल्ताफ की देखरेख में टेलीमेडिसिन के माध्यम से मरीजों का इलाज प्रभावी तरीके से किया जा रहा है।

You may also like...