August 25, 2021

मशहूर शायर मुनव्वर राना के बेटे तबरेज को पुलिस व एसओजी की टीम ने लखनऊ से दबोचा…

मशहूर शायर मुनव्वर राना के बेटे तबरेज को पुलिस व एसओजी की टीम ने लखनऊ से दबोचा…

मनीष अवस्थी


रायबरेली। महीनों से फरार चल रहे फर्जी गोलीकांड का मास्टरमाइंड तबरेज राना आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ ही गया । शहर कोतवाल अतुल सिंह व एसओजी प्रभारी अमरेश त्रिपाठी की टीम ने लखनऊ स्थित उसके आवास से तबरेज राना को गिरफ्तार किया । अपने ही गाड़ी पर गोली चलवा कर अपने ही चाचाओं को फंसाने का कुचक्र तबरेज राना ने रच रखा था।

बीते 28 जून को मशहूर शायर मुनव्वर राना के बेटे तबरेज राना पर शहर कोतवाली स्थित पेट्रोल पंप पर गोली चली थी। पुलिस जांच में फर्जी गोलीकांड का मास्टरमाइंड तबरेज राना ही पाया गया जिसके बाद पुलिस ने तबरेज राना के साथियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। जबकि घटना का मास्टरमाइंड तबरेज राना पुलिस की आंख में धूल झोंककर फरार चल रहा था। जिसके लिए पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने शहर कोतवाल अतुल सिंह व एसओजी प्रभारी अमरेश त्रिपाठी के नेतृत्व में गिरफ्तारी के लिए टीमें लगा रखी थी । उसी परिप्रेक्ष्य में बुधवार को पुलिस को सूचना मिली कि तबरेज राना अपने लखनऊ स्थित आवास पर पहुंच चुका है। मौके पर टीम पहुंचकर तबरेज राना को गिरफ्तार कर लिया और रायबरेली लायी। जहां मेडिकल व अन्य विधिक कार्यवाही करके न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

तबरेज राना का अपने अन्य पारिवारिक सदस्यों जैसे चाचा व चचेरे भाइयों से जमीनी विवाद को लेकर रंजिश चल रही है। उसी को लेकर तबरेज राना ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर एक योजना बनायी और अपने ही ऊपर गोली चलवा ली। जब पुलिस जांच हुई और सीसीटीवी फुटेज को खंगाला गया तो साफ-साफ इस बात की पुष्टि हुई कि तबरेज राना पर हमला नहीं हुआ था बल्कि वह एक प्री प्लांड स्टोरी का हिस्सा था। जिसके बाद पुलिस ने उनके चार साथियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया लेकिन कहानी का मास्टरमाइंड तबरेज राना पहले माननीय उच्च न्यायालय जाकर अपने बचत के लिए दरवाजा खटखटाया। जब राहत नहीं मिली तो पुलिस की आंखों में धूल झोंक कर फरार हो गया । लेकिन तू डाल डाल मैं पात पात वाली कहावत को पुलिस चरितार्थ करते हुए बुधवार को तबरेज राना को उसके अपने ही लखनऊ स्थित आवास से गिरफ्तार कर लिया।

जैसे ही शहर कोतवाल अतुल सिंह व एसओजी प्रभारी अमरेश त्रिपाठी पुलिस बल के साथ तबरेज राना को कोतवाली लेकर पहुंचे तो उनकी बहने वहां पहुंचकर हंगामा करना शुरू कर दिया लेकिन पुलिस ने आनन-फानन में विधिक कार्यवाही करते हुए तबरेज को न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

मुनव्वर राना देश के मशहूर शायरों में एक नाम है। जो रायबरेली के रहने वाले हैं। इस समय लगातार विवादित बयान देकर मुनव्वर राना चर्चा में बने हुए हैं । कभी हिंदुस्तान में मुसलमानों की स्थितियों को बता कर तो कभी तालिबान पर विवादित बयान देकर मुनव्वर राना सुर्खियां बटोरना चाहते हैं और उन्हीं के नक्शे कदम पर उनका बेटा भी कूट रचित कहानियां बनाकर चर्चा में आना चाहता था लेकिन पुलिस ने उसके मंसूबों पर पानी फेर दिया

अपर पुलिस अधीक्षक विश्वजीत श्रीवास्तव ने बताया कि बीते 28 जून को तबरेज राना ने अपने चाचा पर हमला करने का मुकदमा लिखाया था । लेकिन इंस्पेक्टर कोतवाली व एसओजी प्रभारी की जांच में इस बात का खुलासा हुआ कि उसने खुद अपने ऊपर हमला करवाया था। इस ड्रामा में शामिल तबरेज के चार अन्य साथियों को 3 जुलाई के आसपास गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था और तबरेज राना फरार चल रहा था। उसके खिलाफ कोर्ट से वारंट लेकर आज उसके लखनऊ स्थित आवास से उस को गिरफ्तार कर लिया गया है और विधिक कार्रवाई करके न्यायिक हिरासत में भेजा जा रहा है। असलहे के मामले में अभी पूछताछ की जा रही है जो भी होगा उसका भी खुलासा किया जाएगा।

You may also like...