November 15, 2021

रायबरेली: बैंक मैनेजर पर लगा फर्जी तरीके से पीड़ित का लोन पास करने का आरोप ?

रायबरेली: बैंक मैनेजर पर लगा फर्जी तरीके से पीड़ित का लोन पास करने का आरोप ?

मनीष अवस्थी


हरचंदपुर रायबरेली। अनिल पुत्र रामधनी निवासी रघुवीर गंज बाजार मजरे कंडोरा थाना पोस्ट हरचंदपुर रायबरेली का है प्रार्थी फुटपाथ पर किराने की दुकान करता है जो बहुत ही गरीब है और बैंक मैनेजर ने फर्जी तरीके से गरीब का लोन पास किया
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया शाखा हरचंदपुर से सी सी मुद्रा योजना के तहत ₹2लाख रुपए कार्य ऋण लेने हेतु अपने मोहल्ले के तरनजीत पुत्र कृपाल सिंह के माध्यम से तत्कालीन शाखा प्रबंधक नितिन कुमार से मिला
तरनजीत ब बैंक मैनेजर ने लोन पेपर तैयार करने के लिए ₹15000 लिए क्योंकि प्रार्थी पढ़ा लिखा नहीं था केवल हस्ताक्षर बना लेता था उसका फायदा उठाते हुए तरनजीत वा शाखा प्रबंधक ने साठगांठ करके प्रार्थी को गुमराह करते हुए कहा कि तुम्हें दो लाख का ऋण मुद्रा योजना के तहत किया जा रहा है किंतु शाखा प्रबंधक नितिन कुमार और तरनजीत ने जालसाजी करके कुछ पेपरों पर जो इंग्लिश में थे उस पर हस्ताक्षर करा कर 9 लाख रुपए की सीसी लिमिट दिनाक 21जून 2021को बनवाकर उसमें से दिनांक 21 /06/ 2021 को 3 लाख गुरु नानक ट्रेडर्स तथा दिनांक 22 जून 2021को 2लाख गुरु नानक ट्रेडर्स और 1 जुलाई 2021 को एक लाख नेफ्ट टू आशीष कुमार बैंक खाता 000310204738तथा 7 जुलाई 2021 को ₹130000 नेफ्ट टू आशीष कुमार के नाम ट्रांसफर कर दिया जबकि प्रार्थी गुरूनानक ट्रेडर्स और आशीष कुमार को नहीं जानता है इस ट्रांसफर की प्रार्थी को जब जानकारी हुई तो उसने इसकी जानकारी की तब पता चला कि यह भुगतान आशीष कुमार और गुरु नानक ट्रेडर्स में किए गए जोकि प्रार्थी के साथ सीधे तौर पर फ्रॉड किया गया और प्रार्थी के खाते से उपरोक्त लोगों ने छल कपट उपरोक्त जालसाजी करके ₹730000 हड़प लिया उपरोक्त लोगों के द्वारा प्रार्थी के खाते में दिनांक 1 जुलाई 2021 को ₹30000 9 अगस्त 2021 को ₹5000 जमा भी किया गया प्रार्थी की जानकारी में नहीं था
प्रार्थी के द्वारा धन को बैंक में जमा किया गया 20 सितंबर 2021 को वर्तमान शाखा प्रबंधक प्रार्थी के घर वसूली करने आए तब बताया गया मुद्रा योजना के तहत अनिल की सीसी ₹900000 की बनी है जिसमें से ₹730000 निकाले जा चुके हैं इतना सुनते ही प्रार्थी अपने आप को संभाल नहीं पाया और जमीन पर गिर पड़ा और मूर्छित हो गया इसके बाद आज पुलिस अधीक्षक की चौखट पर अनिल और उनके पिता रामधनी अपनी आपबीती बताएं इस पर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि उच्च स्तरीय जांच करा कर आप को न्याय दिलाया जाएगा और बैंक के ऊपर कार्रवाई की जाएगी

You may also like...